कार की विंडशील्ड के लिए कंपलसरी हो जाएगा ISI मार्क, जानें वजह

  • कार की विंडशील्ड के लिए कंपलसरी हो जाएगा ISI मार्क, जानें वजह
You Are HereGadgets
Wednesday, July 22, 2020-12:24 PM

ऑटो डैस्क: द ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड्स ने कार की विंडशील्ड और खिड़कियों में लगने वाले शीशे के लिए ISI प्रमाण को अनिवार्य करने का फैसला लिया है। अक्सर कार की विंडस्क्रीन जब क्षतिग्रस्त होती है तो रिप्लेसमेंट के तौर पर कारों में खराब क्वालिटी की विंडस्क्रीन लगा दी जाती हैं। इससे दुर्घटना के समय घायल होने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। दरअसल, ऐसी विंडस्क्रीन के शीशे टूट कर चालक के आंखों और गले में घुस सकते हैं जिससे उसकी मौत भी हो सकती है।

PunjabKesari

भारतीय मानक ब्यूरो (BIS) ने कार कंपनियों को कार की विंडस्क्रीन और खिड़कियों के शीशे के कोने पर आईएसआई (ISI) मार्क लगाने का आदेश दिया है। यह नियम 1 अप्रैल 2021 को देश भर में लागू कर दिया जाएगा। कार कंपनियों को आदेश जारी किया गया है कि इससे पहले सभी जरूरी प्रमाणीकरण को हासिल कर लिया जाए।

PunjabKesari

इसके अलावा बिना ISI मार्क वाली विंड स्क्रीन के आयात पर भी रोक लगा दी गई है। अगर विंडस्क्रीन को आयात किया जा रहा है तो उसे भारतीय मानक ब्यूरो की जांच प्रक्रिया से गुजरना होगा, तभी उसे बेचने की अनुमति दी जाएगी।

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh