हैकर ने आरोग्य सेतु एप्प की सिक्योरिटी पर उठाए सवाल?, जानिए क्या रहा एप्प डिवेलपर्स का जवाब

  • हैकर ने आरोग्य सेतु एप्प की सिक्योरिटी पर उठाए सवाल?, जानिए क्या रहा एप्प डिवेलपर्स का जवाब
You Are HereGadgets
Wednesday, May 6, 2020-1:04 PM

गैजेट डैस्क: कोरोना वायरस संक्रमितों का पता लगाने वाली आरोग्य सेतु एप्प पर हैकर ने डाटा लीक होने का आरोप लगाया था जिस पर सरकार ने अपनी सफाई जारी कर दी है। फ्रांस के एथिकल हैकर इलियट एल्डरसन का कहना था कि इस एप्प को डाउनलोड करने वाले 9 करोड़ भारतीय यूजर्स की प्राइवेसी खतरे में है। इस मुद्दे पर आरोग्य सेतु एप्प के डिवैल्पर्स ने इन दावों को खारिज करते हुए अपना बयान जारी किया है। आरोग्य सेतु टीम ने कहा कि किसी भी यूजर की पर्सनल जानकारी खतरे में होने की बात साबित नहीं होती है और यह गलत है।

 

हैकर ने क्या किया था ट्वीट में दावा

एथिकल हैकर इलियट एल्डरसन ने अपने ट्वूट में कहा कि आरोग्य सेतु एप्प में एक सुरक्षा खामी पाई गई है, जिससे 9 करोड़ भारतीयों की प्राइवेसी खतरे में है। क्या आप मुझे प्राइवेट में संपर्क कर सकते हैं। इसके बाद करीब 50 मिनट बाद उन्होंने एक और ट्वीट किया जिसमें बताया गया कि इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रेस्पॉन्स टीम और नेशनल इनफॉर्मेटिक्स सेंटर ने मुझसे संपर्क किया। उन्हें इस समस्या के बारे में बता दिया गया है।

 

आरोग्य सेतु की ओर से इस पर कहा गया कि हम लगातार अपने सिस्टम की टेस्टिंग और अपग्रेडिंग कर रहे हैं। टीम आरोग्य सेतु सभी को आश्वस्त करती है कि कोई भी डाटा या सुरक्षा उल्लंघन की पहचान नहीं की गई है।

PunjabKesari

जरूरी है आरोग्य सेतु एप्प को डाउनलोड करना

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस को ट्रैक करने वाली एप्प आरोग्य सेतु को लेकर बड़ा फैसला लिया है। सरकारी और प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले कर्मचारियों को अब Aarogya Setu एप्प का इस्तेमाल करना अनिवार्य हो गया है। सभी ऑर्गनाइजेशन के प्रमुखों को इस आदेश का 100 फीसदी पालन करने के निर्देश भी दिए गए हैं। इसके अलावा केंद्रीय गृह मंत्रालय ने यह भी कहा कि कोविड-19 कंटेनमेंट ज़ोन में रह रहे लोगों के लिए भी आरोग्य सेतु मोबाइल एप्प का इस्तेमाल करना आवश्यक है। देश में अभी तक लगभग 9 करोड़ लोगों ने इस एप्प को डाउनलोड किया है।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Popular News