अगर आप भी ऑनलाइन खाना ऑर्डर करते हैं तो हो जाए सावधान, हो सकता है लाखों का नुकसान

  • अगर आप भी ऑनलाइन खाना ऑर्डर करते हैं तो हो जाए सावधान, हो सकता है लाखों का नुकसान
You Are HereTop Stories
Monday, July 29, 2019-1:23 PM

गैजेट डैस्क : ऑनलाइन फ्रॉड का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसके बारे में पढ़ कर आप चौंक जाएंगे। इंदौर के रहने वाले 42 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने ऑनलाइन खाना ऑर्डर किया था लेकिन उसके 2.28 लाख रुपए चोरी हो गए। 

  • ऑनलाइन खाना ऑर्डर करने पर इंजीनियर को पता चला कि उसके बैंक अकाउंट से कुछ ट्रांजैक्शन्स के तहत 280 रुपए कट गए हैं। इसके बारे में पता लगाने के लिए उसने पेमेंट गेटवे कम्पनी की कस्टमर सपॉर्ट से बात की और कम्पलेंट दर्ज करवाई। दो दिन बाद उसे एक फोन कॉल आई जिसमें कॉल करने वाले व्यक्ति ने खुद को पेमेंट गेटवे सर्विस का एग्जिक्यूटिव बताते हुए उन्हें रिफंड दिलाने का भरोसा दिलाया।

इस तरह हुई चोरी

फोन कॉल में बताया गया कि सर्वर में दिक्कत आ रही है और इसी लिए यूजर को एक रिमोट कंट्रोल एप्प डाउनलोड करनी होगी। एप्प इंस्टाल होने के बाद एग्जिक्यूटिव ने यूजर से रिमोट कंट्रोल एप का लॉगइन मांगा। इसके बाद अगले दिन उन्हें पता चला कि उनके बैंक अकाउंट से 15 ट्रांजैक्शन्स के जरिए 2.28 लाख रुपए निकाले जा चुके हैं।

PunjabKesari

HDFC बैंक ने जारी की ऐडवाइजरी

कुछ दिनों पहले HDFC बैंक ने एक ऐडवाइजरी जारी की थी जिसमें बताया गया था कि आजकल जालसाज ऑनलाइन ठगी को रिमोट कंट्रोल एप्प के जरिए अंजाम दे रहे हैं। इस खास एप्प के जरिए यूजर्स के मोबाइल का पूरी तरह से ऐक्सेस पा लिया जाता है जिसके बाद उस पर अटैक किया जाता है। इस साल की शुरूआत में ही RBI ने इसी तरह के फ्रॉड से लोगों को अलर्ट रहने के लिए कहा था। 

PunjabKesari

इस तरह की ठगी से ऐसे बचें - 

1. कॉल आने पर ना दें जानकारी

आमतौर पर ठग ग्राहकों को फर्जी बैंक एग्जिक्यूटिव बनकर कॉल करते हैं। कॉल आने पर अगर आपको कोई शक पैदा हो तो उस एग्जिक्यूटिव से बैंकिंग से जुड़े कई सवाल करें जिससे वह परेशान होकर खुद ही फोन काट देगा। 

2. ना दें किसी भी तरह की पर्सनल डिटेल

फर्जी एग्जिक्यूटिव खुद को असली बैंक एम्प्लॉई साबित करने के लिए कुछ वेरिफिकेशन से जुड़े सवाल पूछते हैं जैसे कि आपकी जन्मतिथि, नाम और मोबाइल नंबर आदि। इन्हें आपको नहीं देना है। क्योंकि आपके बैंक वालों के पास पहले से ही आपकी डिटेल मौजूद होती है। 

PunjabKesari

3. ना डरें सर्विस बलॉक करने की धमकी से

अकसर फर्जी बैंक और कस्टमर केयर एग्जिक्यूटिव लोगों को कहते हैं कि अगर उनका कहा नहीं माना और डिटेल नहीं दी तो आपके डेबिट/क्रेडिट कार्ड और मोबाइल बैंकिंग सेवाएं ब्लॉक हो जाएंगी, लेकिन ऐसा नहीं है। बैंक आपनी सेवाएं बिना किसी बात के बंद नहीं करता। 

4. कहने पर ना करें एप्प डाउनलोड

जालसाजों की कोशिश हमेशा यही रहती है कि वे किसी भी तरह यूजर के फोन में रिमोट डिवाइस कंट्रोल एप्प जैसे कि AnyDesk डाउनलोड करा दें। जिसके बाद वे टारगेट को अंजाम दे सकें। 

  • एप्प इंस्टाल करने के बाद यूजर से 9 अंकों वाला एप्प कोड मांगा जाता है। यह कोड एक लॉग इन की तरह ही काम करता है जिसके बाद अटैकर आपके फोन का एक्सैस पा सकता है। 
  • इस बात को हमेशा ध्यान में रखें कि अगर कोई कस्टमर केयर एग्जिक्यूटिव बैंकिंग सेवाओं को लेकर आपसे कोई दूसरी एप्प को डाउनलोड करने को कहता है तो इसका सीधा मतलब यही है कि वह फ्रॉड है, ऐसे में आप किसी भी तरह की एप्प डाउनलोड न करें और फोन को डिसकनैक्ट ही कर दें तभी आप बच सकते हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh