Kimbho एप्प के प्ले स्टोर से गायब होने पर पतंजलि ने दिया यह बयान

  • Kimbho एप्प के प्ले स्टोर से गायब होने पर पतंजलि ने दिया यह बयान
You Are HereLatest News
Saturday, June 2, 2018-11:13 AM

जालंधर- पिछले कुछ दिनों से चर्चा का विषय बनी हुई योगगुरु रामदेव की किम्भो एप्प के बारे में एक नई जानकारी सामने अाई है। लांच होने के कुछ घंटो में ही इस एप्प को गूगल के प्ले स्टोर से हटाने के बाद अब पतंजलि का बयान सामने आया है। पतंजलि योगपीठ के प्रवक्ता एसके तीजरवाला ने बताया, ''किम्भो का ट्रायल वर्जन उतारा गया था और अब इसे अब प्ले स्टोर और एप्प स्टोर से हटा लिया गया है।'' तीजरवाला ने यह भी दावा किया है कि लांच होने के महज तीन घंटो के बाद
इस एप्प को 1.5 लाख लोगों ने डाउनलोड किया था।

 

इसके साथ ही पतंजलि के प्रवक्ता ने आगे कहा है कि इस एप्प को औपचारिक रुप से जल्द लांच किया जाएगा। टेक्निकल टीम इस पर काम कर रही है, हालांकि यह एप्प किस तारीख को लांच होगी इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है।वहीं योगगुरु रामदेव ने अपनी इस किम्भो नामक एप्प को व्हाट्सएप के जवाब में पेश किया है। इस मैसेजिंग एप्प का लोगो भी व्हाट्सएप को ही थोड़े हेर-फेर के साथ डिजाइन किया हुआ लगता है।

 

वहीं इस एप्प को लेकर कई सिक्योरिटी एक्सपर्ट ने दावा किया कि इसमें यूजर्स के डाटा की सिक्योरिटी को लेकर कई बड़ी गड़बड़ियां है और इसमें आसानी से सेंध लगाई जा सकती है। इसके अलावा फ्रेंच सेक्योरिटी रिसर्चर एलिओट एल्डरसन ने रामदेव के इस एप्प में यूजर के डाटा सिक्योरिटी को लेकर बड़ी चिंता जताई थी। एलिओट एल्डरसन ने ट्वीट किया, ' किम्भो एप्प एक मजाक है, अगली बार किसी भी घोषणा से पहले कंपनी एक बेहतर डेवलपर नियुक्त करे। इस एप्प को इस्टॉल ना करें।' 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन