घर के लिए खरीदने वाले हैं प्रोजेक्टर तो पहले जान लें इससे जुड़ी कुछ खास बातें

  • घर के लिए खरीदने वाले हैं प्रोजेक्टर तो पहले जान लें इससे जुड़ी कुछ खास बातें
You Are HereGadgets
Monday, November 30, 2020-11:21 AM

गैजेट डैस्क: अगर आप इन दिनों घर के लिए एक होम प्रोजेक्टर खरीदने के बारे में सोच रहे हैं तो इससे पहले आपको कुछ बातों को जान लेना बहुत ही जरूरी है। सबसे पहले आपको निश्चित दूरी से मिलने वाली इमेज के साइज का आकलन करना चाहिए। अगर आप प्रोजेक्टर स्क्रीन से 10 फीट की दूरी पर रखेंगे तो इससे थ्रो रेश्यो 1.8 से 2.22 की मिलेगी और आपको इमेज साइज़ 54 से लेकर 66 इंच तक का मिलेगा। जानकारी के लिए बता दें कि बेनक्यू, एप्सन, सोनी, पैनासोनिक और व्यूसोनिक जैसी बहुत सी कंपनियां वेबसाइट पर दूरी कैलकुलेटर मुहैया कराती है जिनकी आप मदद ले सकते हैं।

प्रोजेक्टर के प्रकार

प्रोजेक्टर को तकनीक के आधार पर तीन भागों में बांटा गया है जिनमें DLP, LCD और LED प्रोजेक्टर मौजूद हैं। इनके अलावा आजकल तो बाजार में पॉकेट प्रोजेक्टर भी उपलब्ध कर दिए गए हैं।

DLP प्रोजेक्टर:

डिजिटल लाइट प्रोसेसिंग तकनीक में छोटी सी माइक्रोस्कोपिक मिरर की बनी चिप का इस्तेमाल होता है। इसके अलावा इसमें एक कलर्ड स्पिनिंग व्हील भी लगा होता है। डीएलपी शार्प इमेजिज़ देता है, इसका रेस्पॉन्स टाइम काफी बेहतर होता है। इसमें 3डी आउटपुट को प्रजेंट करने की भी क्षमता होती है। यह एक्टिव और पैसिव, दोनों तरह के प्रोजेक्शन को सपोर्ट करता है।

LCD प्रोजेक्टर:

एलसीडी प्रोजेक्टर में लिक्विड क्रिस्टल डिस्प्ले का इस्तेमाल होता है। इसमें कोई मूविंग पार्ट नहीं होता इसी लिए इनकी कीमत भी अन्य के मुकाबले कम ही होती है। एलसीडी में बेहतर सेचुरेशन, कम नॉइज़ मिलती है और ये बड़े वेन्यूज़ में ज्यादा बेहतर काम करते हैं।

LED प्रोजेक्टर:

इनमें छोटी एलईडी का इस्तेमाल होता है और इनका जीवनकाल 20,000 घंटे से ज्यादा का होता है। ये बेहतर कलर्स देते हैं और बिजली की खपत भी कम करते हैं। ये आकार में भी काफी छोटे होते हैं और इनसे कम हीट निकलती है, लेकिन इनकी ब्राइटनेस सीमित होती है।

जानकारी के लिए बता दें कि आप प्रोजेक्टर का इस्तेमाल करने के लिए स्क्रीन और दीवार में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं, लेकिन प्रोजेक्टर दीवार पर बेहतर परफॉर्म नहीं कर पाता है। स्क्रीन ज्यादा लाइट रिफ्लेक्ट करती है और ज्यादा रोशनी वाले कमरों में अच्छा परफॉर्म करती हैं। स्क्रीन्स पर ही आपको व्हाइट और ग्रे का सही शेड मिलता है।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Latest News

Popular News