भारत में एंड्रॉयड यूजर्स का डाटा चुरा रहे ये दो वायरस, जानें डिटेल्स

  • भारत में एंड्रॉयड यूजर्स का डाटा चुरा रहे ये दो वायरस, जानें डिटेल्स
You Are HereLatest News
Friday, June 15, 2018-6:34 PM

जालंधर- सिक्योरिटी सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी क्विक हील सिक्योरिटी लैब ने Android.Marcher.C और Android.Asacub.T नाम के दो वायरस का पता लगाया है, जो एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर्स की मोबाइल बैंकिंग एप्स के नोटिफिकेशन को कॉपी कर रहे हैं। क्विक हील का दावा है कि ये वायरस एंड्रॉयड यूजर्स की निजी जानकारियां भी चुरा सकते हैं। वहीं जिन बैंकिंग एप्स पर दोनों वायरस का खतरा है उनमें SBI, HDFC और एक्सिस बैंक समेत 6 बैंकिंग एप्स शामिल हैं। 

 

PunjabKesari
 

ये बैंकिंग एप्स हुई प्रभावित 

1. SBI Anywhere Personal
2. Axis Bank Mobile
3. HDFC Bank Mobile Banking Lite
4. Union Bank Mobile Banking
5. Baroda mPassbook
6. iMobile ICICI Bank

 

एेसे करते हैं अटैक

सिक्योरिटी सॉफ्टवेयर कंपनी ने बताया कि ये बैंकिंग मैलवेयर Adobe फ्लैश प्लेयर का इस्तेमाल कर रहे हैं। एक बार एंड्रॉयड स्मार्टफोन में इंस्टॉल होने के बाद ये वायरस यूजर्स को एक्टिवेट बटन को सिलेक्ट करने के लिए मजबूर करते हैं और फिर निजी जानकारी देख लेते हैं।

 

PunjabKesari

 

अटैकर ने डिजाइन की कुछ एप्स 

वहीं अटैकर ने यूजर्स के निजी डाटा को चुराने के लिए कुछ एप्स भी डिजाइन किए हैं। यह मैलेवेयर यूजर्स को एक फर्जी विंडो शो करता है जिस पर डेबिट/क्रेडिट कार्ड की जानकारी मांगी जाती है। जब यूजर कार्ड नंबर एंटर करता है तो बैंकिंग ट्रोजन जानकारी को इकट्ठा कर इसे एक मैलेशियस सर्वर पर हैकर्स को भेज देता है।

 

PunjabKesari

 

इससे पहले भी हुअा था अटैक 

अापको बता दें कि अक्सर एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर्स के लिए ट्रोजन्स (वायरस) या मैलवेयर का खतरा बना रहता है। वहीं फरवरी महीने में कई यूजर्स पॉर्न मैलवेयर हमले का शिकार हो हुए थे। 

 

PunjabKesari

 

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Popular News