फिटनैस ट्रैकर के जरिए रखी जा रही सैनिकों व खुफिया एजैंटों के घरों पर नज़र

  • फिटनैस ट्रैकर के जरिए रखी जा रही सैनिकों व खुफिया एजैंटों के घरों पर नज़र
You Are HereLatest News
Tuesday, July 10, 2018-10:38 AM

जालंधर : सेहत से जुड़ी जानकारी का पता लगाने के लिए लोग फिटनैस ट्रैकर का उपयोग करते हैं, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि ये आपके दौड़ने से वापस घर आने तक के डाटा को सेव रखते हैं जिससे कितने बजे आप किस ओर निकलते हैं व आपका घर कहां है उसका पता लगाया जा सकता है जोकि एक बहुत बड़ा गोपनीयता से जुड़ा जोखिम है। 

 

कभी दुनिया के पहले वायरलैस हार्ट रेट मॉनीटर से मशहूर हुई कम्पनी पोलर अब बहुत बड़े विवादों के घेरे में फंस गई है। एनगैजेट की रिपोर्ट के मुताबिक पोलर कम्पनी की स्मार्टवॉचेस पोलर फ्लो सोशल प्लेटफॉर्म पर आधारित हैं जिसके जरिए इस वॉच का उपयोग करने वाले सैनिकों व खुफिया अधिकारियों के घरों का खुलासा हो सकता है। 

 

सैनिकों के लिए खतरा है यह स्मार्टवॉच 

पोलर वॉच में दिया गया सिस्टम मैप पर सभी लोगों की वर्कआऊट डिटेल्स को शो कर रहा है जिससे संवेदनशील स्थापना जैसे कि मिलिट्री बेस और जासूसी करने वाली एजैंसियों का पता लगाया जा सकता है। अगर आप किसी व्यक्ति की पोलर फिटनैस ट्रैकर की वर्कआऊट डिटेल्स को देखेंगे तो आपको पता लगेगा कि ट्रैकिंग घर आने पर ही खत्म होती है व ज्यादातर लोग अपने असली नाम से ही इस पर रजिस्टर्ड हैं। इनमें से कुछ तो सोशल मीडिया साइट्स पर भी इस जानकारी को अपलोड कर देते हैं जिससे रिस्क और बढ़ जाता है।

PunjabKesari

 

6,500 यूजर्स की लिस्ट की हुई जांच 

रिसर्चर्स का कहना है कि उन्होंने 6,500 यूजर्स की लिस्ट की जांच की है जिनमें अस्थिर क्षेत्रों में मौजूद सैनिकों का भी डाटा शामिल था। इसके जरिए जोखिमों को समझना काफी आसान हो गया, जिससे माना जा रहा है कि इस तरह के डाटा का उपयोग आतंकवादी किडनैप और अटैक जैसी गतिविधियों के लिए कर सकते हैं। 

 

पोलर ने दी प्रतिक्रिया

इस खबर के बाद पोलर ने जवाब देते हुए कहा है कि उसने टैम्परेरी तौर पर एक्सप्लोर फंक्शनैलिटी को बंद कर दिया है ताकि प्राइवेसी को कन्ट्रोल में रखा जा सके। इन रिजल्ट्स के बाद कहा जा सकता है कि फिटनैस इंडस्ट्री को यूजर की सुरक्षा को लेकर अभी और काम करने की जरूरत है। कई कम्पनियां ऐसे फिटनैस ट्रैकर बनाती हैं जिनकी बिक्री काफी अच्छी-खासी हो रही है। 

 

जरूरी हिदायत

अगर आप किसी भी कम्पनी के फिटनैस ट्रैकर का इस्तेमाल करते हैं तो ध्यान में रहे कि इससे जुड़ा डाटा सोशल मीडिया पर कभी अपलोड ना करें क्योंकि इससे आपको व देश को नुक्सान पहुंच सकता है। 

Edited by:Hitesh
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन