जानें आखिर क्यों पूरा बेंगलुरु हुआ सैमसंग इंजीनियर अभिषेक का फैन?

  • जानें आखिर क्यों पूरा बेंगलुरु हुआ सैमसंग इंजीनियर अभिषेक का फैन?
You Are HereGadgets
Thursday, April 23, 2020-3:48 PM

सच्चा कोरोना वारियर है सैमसंग का अभिषेक

नई दिल्ली: पूरी दुनिया आज कोरोना वारियर्स को सलाम कर रही है। भारत में एक से बढकर एक कोरोना वारियर्स की कहानी हम देख और सुन रहे हैं। ऐसे में अभिषेक की कहानी दूसरों से अलग है। एक इंजीनियर के रूप में उन्होंने जो तकनीकी बारिकियों को सीखा और समझा, उसके सहारे वे कई कोरोना पीडितों के लिए उम्मीद की किरण बने। आज हर कोई पेशे से सैमसंग में इंजीनियर अभिषेक की बात कह और सुन रहा है।

PunjabKesari

असल में, बेंगलुरु के अभिषेक शंकर नादगीर सैमसंग में काम करते हैं। उन्हें पता चला कि शहर के एक अग्रणी अस्पताल में मशीन काम नहीं कर रही है। इस अस्पताल में कई कोरोना मरीजों का इलाज चल रहा है। मशीन के कुछ कलपुर्जे मिल नहीं रहे थे। अब क्या किया जाए ? उन्होंने कुछ पल के लिए सोचा और उसके बाद अपनी बहन और पडोसी के लैपटॉप से जरूरी कलपुर्जे निकाल लिए। चंद घंटों की मेहनत और सूझबूझ से अस्पताल की मशीन चालू कर दी गई। अब वहां निर्बाध गति से कोरोना रोगियों का इलाज हो रहा है। क्या किसी ने सोचा था कि आपात स्थिति में गेमिंग कंसोल और लैपटॉप के जरिए कोरोना रोगियों को राहत मिलेगी। है न अभिषेक शंकर की गजब की सोच। आज इन्हें सैमसंग परिवार सहित आस पास के लोग सलाम कर रहे हैं।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Latest News

Popular News