प्ले स्टोर पर सामने आईं 33 नई खतरनाक एप्स, अभी करें डिलीट

  • प्ले स्टोर पर सामने आईं 33 नई खतरनाक एप्स, अभी करें डिलीट
You Are HereGadgets
Monday, August 19, 2019-5:41 PM

गैजेट डैस्क : प्ले स्टोर पर 33 नई खतरनाक एप्स का पता लगाया गया है जिसके जरिए साइबर क्रिमिनल्स यूजर के स्मार्टफोन को नुकसान पहुंचा सकते हैं और उनके पर्सनल डाटा को भी चोरी कर सकते हैं। हाल ही में सामने आई डॉक्टर वैब (Doctor Web) की रिपोर्ट के अनुसार प्ले स्टोर पर 33 नई मलीशियस एप्स की पहचान की गई है। हैरानी की बात तो यह है कि इन एप्स में से कुछ को तो 10 करोड़ से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है। 

  • इन इंफेक्टेड एप्स में से एक है जीपीएस फिक्स एप्प जोकि एक लोकेशन डिटेक्टर और नैविगेशन एप्प है। यह एप्प डिवाइस के जीपीएस/एजीपीएस को तब तक ऑन रखता है जब तक की लोकेशन को फिक्स ना कर दिया जाए।
  • इसके अलावा QR Code Reader एप्प, QR ऐंड बारकोड स्कैनर और क्रिकेट मजा लाइव एप्प भी कुछ ऐसी डेली यूज की जाने वाली एप्स हैं जिन पर मैलवेयर अटैक हो चुका है। ऐसे में एक्सपर्ट्स की सलाह है कि समझदारी बरतते हुए इन्हें फोन में इंस्टॉल ना किया जाए।

डिक्शनरी एप्स भी नहीं हैं सुरक्षित

दुनिया में काफी मात्रा में लोग डिक्शनरी एप्स का उपयोग करते हैं। यह एप्स मौके पर काफी मदद करती हैं लेकिन ताजा रिसर्च में पता चला है कि English To Urdu ऑफलाइन डिक्शनरी एप्प मैलवेयर अटैक के कारण अब मलीशस एप्स की कैटिगरी में आ गई है। 

  • वहीं फिटनेस ट्रैक करने वाली एप्प Pedometer Step Cunter का इस्तेमाल करना भी खतरे से खाली नहीं है। अगर आपके फोन में इन में से कोई भी एप्प इंस्टाल है तो इन्हें रिमूव कर देगा ही बेहतर रहेगा। 

मालवेयर से प्रभावित हैं रास्ता बताने वाली एप्स

आज के दौर में लोग रास्ते का पता लगाने के लिए रूट फाइंडर एप्प का काफी उपयोग करते हैं। डॉक्टर वैब की रिसर्च में पाया गया है कि यह एप्प भी मैलवेयर से प्रभावित है। वहीं डाक्यूमेंट फाइल्स को पढ़ने के लिए लोग PDF व्यूअर और नोटपैड टेक्स्ट रीडर का उपयोग करते हैं। हालांकि अब इन्हें इस्तेमाल करना सुरक्षित नहीं है क्योंकि रिसर्चर ने इन दोनों एप्स को इंफेक्टेड बताया है।

नहीं सेफ हैं धर्म से जुड़ी एप्स

प्ले स्टोर पर ऐसी कई धार्मिक एप्स है जैसे कि मुस्लिम प्रेयर टाइम्स ऐंड किबला कंपास,  फुल कुरान एमपी3, एआई कुरान एमपी3, प्रेयर टाइम्स, रमदान टाइम्स, सिख वर्ल्ड जोकि मलीशियस मैलवेयर से इंफेक्टेड पाई गए हैं।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh