हैकर्स ने लगाई Asus के सॉफ्टवेयर अपडेट सिस्टम में सेंध, 10 लाख कंप्यूटर्स प्रभावित

  • हैकर्स ने लगाई Asus के सॉफ्टवेयर अपडेट सिस्टम में सेंध, 10 लाख कंप्यूटर्स प्रभावित
You Are HereGadgets
Tuesday, March 26, 2019-6:36 PM

गैजेट डेस्कः साइबर सिक्यॉरिटी फर्म Kaspersky Lab एक रिपोर्ट से ये जानकारी सामने आई है कि ताइवान की फोन निर्माता कंपनी आसुस (Asus) कंपनी का सॉफ्टवेयर अपडेट सिस्टम हैक होने से लगभग 1 मिलियन (10 लाख) विंडो कम्प्यूटर प्रभावित हुए है। लगभग 6 महीने से Asus मालवेयर को आगे बढ़ा रही है जिससे हैकर्स को कंम्पूयटर की सारी जानकारी हासिल हो रही थी। मालवेयर में 600 सिस्टम्स के लिए विशेष निर्देशों का इस्तेमाल किया गया जिनकी पहचान स्पेसिफिक MAC अड्रेस से की गई। Kaspersky ने इस मालवेयर को 'शैडोहैमर' (ShadowHammer) नाम दिया।
PunjabKesari

10 लाख विंडो पीसी में मॉलवेयर हुआ स्प्रेड
रिपोर्ट में यह बताया गया है कि कंपनी के सॉफ्टवेयर अपडेट को हैक करके हैकर्स ने करीब 10 लाख विंडो पीसी में मॉलवेयर स्प्रेड किए। मालवेयर को 'क्रिटिकल' सॉफ्टवेयर अपडेट के तौर पर दिखाया गया जो कि आसुस के सर्वर से डिस्ट्रिब्यूट किया जा रहा था। मालवेयर स्प्रेड करने के लिए रियल आसुस सर्टिफिकेट का इस्तेमाल किया गया जिससे यह वैलिड लगे। अभी तक यह साफ नहीं हुआ है कि इसके पीछे हैकर्स का उद्देश्य क्या था हालांकि हैकर्स कुछ स्पेसिफिक आसुस कस्टमर्स को टारगेट कर रहे थे।
PunjabKesari

यूजर्स की सिक्यॉरिटी के लिए बड़ा खतरा
इस मालवेयर अटैक के बारे में आसुस ने कस्टमर्स से संपर्क नहीं किया है ना ही इसे रोकने के लिए अभी तक कोई कदम उठाए गए हैं हालांकि कंपनी का कहना है कि आज कंपनी की तरफ से इस संबंध में ऑफिशल स्टेटमेंट जारी किया जाएगा। कंपनी ने यह मानने से इंकार कर दिया है कि यह मालवेयर आसुस के सर्वर से रिलीज हुआ है। कंपनी के अपडेट सिस्टम को हैक करके हैकर्स बड़े स्केल पर कम्प्यूटर्स में सेंध लगा सकते हैं। हालांकि कंपनी का सिस्टम अपडेट हैक कर पाना आम बात नहीं है पर इससे यूजर्स की सिक्यॉरिटी के लिए यह बड़ा खतरा है।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Isha