चीन ने बनाए हैं कुछ एंड्रॉयड मैलवेयर जिनसे हो रही है पूरी दुनिया की जासूसी

  • चीन ने बनाए हैं कुछ एंड्रॉयड मैलवेयर जिनसे हो रही है पूरी दुनिया की जासूसी
You Are HereGadgets
Tuesday, July 7, 2020-5:53 PM

गैजेट डैस्क: चीन को लेकर एक नई रिपोर्ट सामने आई है जिसमें दावा किया जा रहा है कि चीन की कुछ साइबर एजेंसियां दुनियाभर के मुस्लिम और अल्पसंख्यकों की जासूसी करने के लिए एंड्रॉयड मैलवेयर का इस्तेमाल कर रही हैं। इसकी जानकारी सैन फ्रांसिस्को की मोबाइल साइबर सिक्योरिटी फर्म लुकआउट (Lookout) ने दी है। सिक्योरिटी फर्म ने अपनी रिपोर्ट में forbes को बताया है कि चाइनीज़ हैकर्स के ग्रुप एंड्रॉयड मैलवेयर के जरिए यूजर्स की निजी जानकारी चोरी कर रहे हैं।

इन मैलवेयर के नाम SilkBean, DoubleAgent, CarbonSteal और GoldenEagle है। ये सभी मैलवेयर डाटा चोरी के कैंपेन mAPT (मोबाइल एडवांस्ड परसिस्टेंट थ्रीट) का हिस्सा हैं जोकि साल 2013 से चल रहा है। इस मामले में GREF हैकिंग ग्रुप का नाम सामने आ रहा है। 

PunjabKesari

इस तरह की जानकारी को चोरी कर रहे हैकर्स

मैलवेयर के जरिए ये हैकर्स लोगों की निजी जानकारियों को चोरी करते हैं। इस डाटा में लोकेशन, कॉन्टेक्ट नंबर्स, टेक्स्ट मैसेज, कॉल हिस्ट्री, मोबाइल का सीरियल नंबर और मॉडल नंबर आदि शामिल हैं। माना जा रहा है कि ये हैकर्स CarbonSteal मैलवेयर का भी इस्तेमाल करते हैं जोकि चुपके से ऑडियो रिकॉर्डिंग करने में माहिर है। वहीं GoldenEagle स्पाईवेयर का इस्तेमाल स्क्रीनशॉट लेने और फोटो चोरी करने में किया जा रहा है।

PunjabKesari

इन 4 एप्प फैमिलीज़ के जरिए लोगों को किया जा रहा टारगेट

इन 14 देशों को किया जा रहा टारगेट

एंड्रॉयड मैलवेयर वाली एप्स अंग्रेजी, चाइनीज, तुर्की, पाश्तो, फारसी, मलय, इंडोनेशियाई, उज्बेक और उर्दू/हिंदी भाषाओं में मौजूद हैं और इनके जरिए 14 देशों को टार्गेट किया जा रहा है जिनमें फ्रांस, पाकिस्तान, सऊदी अरब, मलेशिया, मिस्र और ईरान जैसे देश शामिल हैं।

PunjabKesari

 

 

हरे रेंग में दिख रहे देशों में ये मालवेयर वाली एप्स ऑपरेट हो रही हैं


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Popular News