इलेक्शन प्रभावित करने के लिए हुआ था FB का इस्तेमाल: जुकरबर्ग

  • इलेक्शन प्रभावित करने के लिए हुआ था FB का इस्तेमाल: जुकरबर्ग
You Are HereLatest News
Friday, July 20, 2018-10:32 AM

जालंधर- सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने एक इंटरव्यू में कहा है कि लोग सोशल मीडिया साइट के जरिए चुनाव को प्रभावित कर रहे थे। उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि फेसबुक के जरिए चुनाव प्रभावित किया जा रहा था। मार्क जुकरबर्ग ने इस इंटरव्यू में फेक न्यूज से लेकर चुनाव को प्रभावित करने से लेकर सभी मुद्दों पर खुलकर बातचीत की है। उन्होंने कहा कि कई हैकिंग ग्रुप ने फेसबुक का इस्तेमाल कर यूजर्स के अकाउंट को एक्सेस किया और रुस में होने वाले चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश की है।

 

PunjabKesari

 

2015 में मिली थी जानकारी 

जुकरबर्ग ने कहा कि साल 2015 में उनको इस बारे में जानकारी मिली। इसके बाद उन्होंने एफबीआई को इस बात की सूचना दी। 2016 में फिर ऐसी ही घटना हुई और तब लोगों को इस बारे में जानकारी दी गई।

 

PunjabKesari

 

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस

इसके अलावा जुकरबर्ग ने कहा कि फेक अकाउंट को खोजने के लिए अब सोशल मीडिया साइट आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का सहारा ले रही है। ताकि यूजर्स को बेहतर अनुभव दिया जा सके।

 

PunjabKesari

 

पांच लाख पाउंड का जुर्माना

अापको बता दें कि सोशल मीडिया वेबसाइट कंपनी फेसबुक पर कैंब्रिज एनालिटिका डाटा सुरक्षा मामले में ब्रिटेन में पांच लाख पाउंड का जुर्माना लगाया गया है। आरोप है कि उसने  8 करोड़ से ज्यादा यूजर्स का डाटा चुराकर अमेरिकी चुनाव को प्रभावित किया था। सूचना आयुक्त कार्यालय ने पाया कि फेसबुक ने लोगों की जानकारियां सुरक्षित रखने में असफल रहकर कानून का उल्लंघन किया है। उन्होंने कहा कि फेसबुक को अब अपनी आंतरिक जांच की रिपोर्ट सूचना आयुक्त कार्यालय, हमारी समिति तथा अन्य प्रासंगिक जांच प्राधिकरणों के समक्ष पेश करना चाहिए।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Jeevan