अटैक करने के लिए हैकर कर रहे गूगल ट्रांसलेटर का इस्तेमाल

  • अटैक करने के लिए हैकर कर रहे गूगल ट्रांसलेटर का इस्तेमाल
You Are HereGadgets
Sunday, February 10, 2019-10:55 AM

गैजेट डैस्क : आज के दौर में हैकर्स नए-नए तरीकों से यूजर्स के डाटा को हैक करने की कोशिश में जुटे हुए हैं। हैकिंग को लेकर एक ऐसा ही मामला सामने आया है जिसमें गूगल ट्रांसलेटर का उपयोग कर हैकर्स लोगों की निजी जानकारी पर अटैक करने की कोशिश कर रहे हैं। अमरीकी Akamai सिक्योरिटी कम्पनी के रिसर्चर लैरी कैशडॉलर ने बताया है कि उन्हें एक संदिग्ध ईमेल प्राप्त हुआ है जिसमें बताया गया है कि किसी ने उनके गूगल अकाउंट पर विंडोज मशीन के जरिए लागइन किया है। इस मेल में सैंडर का Hotmail अड्रैस शो हो रहा है जोकि फेक है। 

यूजर्स को दिख रहे फेक पेज

मेल में आए ईमेल अड्रैस पर क्लिक करने पर एक URL लिंक ओपन होता है जो यूजर को गूगल की तरह ही दिखने वाले फेक लागिन पेज पर ले जाता है जहां अकाउंट की जानकरी भरने को कहा जाता है। वहीं कुछ अन्य यूजर्स को पुरानी फेसबुक की तरह ही दिखने वाला पेज ओपन हो रहा है जो इसमें लॉगिन करने को कहता है जिससे यूजर की जानकारी का एक्सैस हैकर के पास चला जाता है और वे IP अड्रैस और लोकेशन का पता लगा लेता है।

लिंक में शो हो रही फेक लोकप्रिय वैबसाइट्स

हैकर्स यूजर्स को लोकप्रिय वैबसाइट्स की तरह ही दिखने वाले फेक पेज को दिखा कर ठगने का काम कर रहे हैं। इन फेक पेजिस को आसानी से पहचानना काफी मुश्किल है और यूजर बिना सोचे समझे इन साइट्स पर यूजरनेम और पासवर्ड से लॉगइन कर लेते हैं जिससे हैकर्स उनके अकाउंट को हैक कर लेते हैं। 

सावधान रहने की जरूरत

एंड्रॉयड हैडलाइन्स की रिपोर्ट के मुतबिक हैकिंग से जुड़ी इस तरह की समस्या से बचने के लिए यूजर्स को थोड़ा सावधान रहने की जरूरत है। आमतौर पर गूगल, फेसबुक या कोई भी ऐसी वेबसाइट एक खास तरह के ईमेल अड्रेस से अपने यूजर्स को नोटिफिकेश भेजती हैं यानी इस तरह के लिंक आने पर उनकी पहले जांच करने की जरूरत है। 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh