हुंडई बदलेगी 75,680 कोना इलेक्ट्रिक कारों की बैटरियां, आग लगने का है जोखिम

  • हुंडई बदलेगी 75,680 कोना इलेक्ट्रिक कारों की बैटरियां, आग लगने का है जोखिम
You Are HereGadgets
Thursday, February 25, 2021-3:10 PM

ऑटो डैस्क: हुंडई 75,680 कोना इलेक्ट्रिक कारों की बैटरियों को बदलने वाली है, इनके अलावा 82,000 अन्य इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की बैटरियों को भी बदला जाएगा और इसमें कंपनी को 1 ट्रिलियन वोन (लगभग 900 मिलीयन डॉलर) का खर्च आएगा। कोरियाई नियामक के अनुसार हुंडई ने घोषणा करते हुए बताया है कि कोना इलेक्ट्रिक व्हीकल (Kona EV) को दक्षिण कोरिया और उत्तरी अमेरिका से रिकॉल किया जा रहा है। अब तक दुनिया भर में 14 ऐसे मामले सामने आ चुके हैं जिनमें इस कार की बैटरी को आग लगी है जिन्हें कि LG कैम (कैमिकल कंपनी) द्वारा बनाया गया है।

कोना इलेक्ट्रिक कार को लेकर किया जा रहा ये रिकॉल अब तक का सबसे महंगा रिकॉल हो सकता है और इससे पता चलता है कि हुंडई कंपनी के लिए ये एक बुरा समय है।

कंपनी का बयान

हुंडई ने अपने बयान में कहा है कि कंपनी अपने ग्राहकों के संभाव्य जोखिम को कम करना चाहती है। इन कारों की बैटरियों में आग लगने की संभावना सामने आई है जिसके बाद कंपनी ने अपने ग्राहकों की सुरक्षा को लेकर इन बैटरियों को रिप्लेस करने का निर्णय लिया है। हुंडई कोना इलेक्ट्रिक, आयोनिक EV और इलैक सिटी व्हीकल्स को रिकॉल करेगी। इस दौरान बैटरी सिस्टम असैम्बली को पूरी तरह से बदल दिया जाएगा। यह निर्णय कोरियाई सरकार के नेतृत्व में की गई एक जांच के बाद लिया गया है।

बैटरियों में आग लगने का संभावित कारण

संभावना है कि एलजी एनर्जी सॉल्यूशन नानजिंग प्लांट में तैयार की गई इन बैटरियों के बैटरी सैल्स में शॉट सर्केट हो रहा है। कंपनी का कहना है कि वे अपने ग्राहकों की सुरक्षा का ध्यान रखती है इसी लिए इन इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को रिकॉल किया गया है। जानकारी के लिए बता दें कि LG (कैमिकल कंपनी) ने अपने ऊपर लगे किसी भी तरह के दोष का खंडन किया है, लेकिन उन्होंने कहा है कि वह मंत्रालय के साथ काम करना जारी रखेंगे।

कंपनी अपडेट के जरिए कर चुकी है इस समस्या को ठीक करने की कोशिश

राउटर्स की रिपोर्ट में बताया गया है कि हुंडई ने पिछले महीने एक सॉफ्टवेयर अपडेट जारी किया था जिससे कोना इलेक्ट्रिक कार के बैटरी मैनेजमेंट सिस्टम में कुछ बदलाव किए गए थे। कंपनी ने इस सिस्टम को 90 प्रतिशत तक मैक्सिमम चार्ज होने के लिए सैट कर दिया था यानी कार की बैटरी 90 प्रतिशत से ज्यादा चार्ज ही नहीं हो सकती थी। इसके बाद भी पिछले महीने दक्षिण कोरिया में अपडेट किए हुए व्हीकल की बैटरी में आग लग गई थी। इसके बाद कोरियाई अधिकारियों ने हुंडई को इन कारों को वापस बुला कर जांच करने को प्रेरित किया था।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Latest News

Popular News