देश में शुरू हुआ पहला ह्यूमन स्पेस फ्लाइट सेंटर

  • देश में शुरू हुआ पहला ह्यूमन स्पेस फ्लाइट सेंटर
You Are HereLatest News
Tuesday, February 5, 2019-1:38 PM

गैजेट डेस्कः दुनिया के बहुत कम ही देशों ने मानव चालित अंतरिक्ष यान बनाने में सफलता हासिल की है। अब भारत भी अपना पहला मानव अंतरिक्षयान गगनयान को लॉन्च करने की योजना पर काम कर रहा है। जानकारी के लिए बता दें कि पिछवे बुधवार को भारतीय अंतरिक्ष रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (इसरो) ने बेंगलुरु के अपने हेडक्वॉटर्स में समानव अतंरिक्ष उड़ान केंद्र (Human Space Flight Centre) की शुरुआत की। जानकारी के मुताबिक मानव अंतरिक्ष यान में महिला एस्ट्रोनॉट को शामिल किया जाएगा।

वर्ष 2021 के अंत में होगी गगनयान की उड़ान
इस ह्यूमन स्पेसक्राफ्ट को 2021 के अंत तक लॉन्च करना चाहती है। इसरो का यह बहुत ही महत्वाकांक्षी कार्यक्रम है और इसके लिए काम इसी वर्ष शुरू हो जाएगा। इसरो द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, पहला मानवरहित अंतरिक्षयान मार्च, 2021 में भेजा जाएगा और दूसरा जुलाई 2021 में भेजा जाएगा। चालक दल के साथ अंतरिक्षयान दिसंबर, 2021 में भेजने की योजना है।

पेश किया गया गगनयान का मॉडल
बता दें कि इसरो के पूर्व चेयरमैन के. कस्तूरीरंगन ने ह्यूमन स्पेस फ्लाइट सेंटर का उद्घाटन किया। इस मौके पर इसरो के चेयरमैन के. शिवम और डिपार्टमेंट ऑफ स्पेस के सेक्रेटरी के अलावा इसरो के डायरेक्टर और इस ऑर्गनाइजेशन से जुड़े कई बड़े वैज्ञानिक भी मौजूद थे। इस मौके पर गगनयान का मॉडल भी पेश किया गया।

लगभग दल हजार करोड़ का बजट स्वीकृत
ह्यूमन स्पेस फ्लाइट सेंटर गगनयान प्रोजेक्ट से जुड़े हर काम के लिए जिम्मेदार होगा और यह इसके लिए इंजीनियरिंग सिस्टम डेवलप करने के साथ अंतरिक्ष यान के चालक दल के सदस्यों का भी चुनाव करेगा। इस सेंटर के डायरेक्टर एस. उन्नीकृष्णन नायर हैं जबकि गगनयान के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आर. हट्टन हैं। केंद्र सरकार ने इस प्रोजेक्ट के लिए अभी 9,023 करोड़ रुपए का बजट स्वीकृत किया है।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Jeevan