इंटरनेट कनेक्टेड कारों से हैकर्स रच सकते हैं 9/11 जैसी साज़िश

  • इंटरनेट कनेक्टेड कारों से हैकर्स रच सकते हैं 9/11 जैसी साज़िश
You Are HereTop Stories
Saturday, August 3, 2019-12:51 PM

गैजेट डेस्क : ऑटो वर्ल्ड फ़िलहाल इलेक्ट्रिक कारों को लेकर उत्सुक है लेकिन फ्यूचर इंटरनेट कनेक्टेड कारों का होने वाला है। देश में फिलहाल एमजी हेक्टर और ह्यूंदै वेन्यू ही इंटरनेट कनेक्टेड कारें है। जहाँ पूरी दुनिया ऑटो सेक्टर मंदी को झेल रहा है तो वहीँ इन कारो की तगड़ी बुकिंग ज़ारी है। 


इन इंटरनेट कनेक्टेड कारों की भारी डिमांड 

 

PunjabKesari

 

मिनी एसयूवी ह्यूंदै वेन्यू की डिमांड सबसे अधिक है और इसके लिए 50 हज़ार बुकिंग्स हो चुकी है तो वहीँ एमजी हेक्टर के लिए 28 हज़ार बुकिंग्स हुई हैं। बुकिंग्स के इन शानदार आंकड़ों को देख के लगता है कि इंटरनेट कनेक्टेड कारो से ह्यूमन फ्यूचर सिक्योर है किन्तु टेक एक्सपर्ट्स ने इनके दुरूपयोग के चलते भविष्य में खतरा बढ़ने की चिंता जताई है। 

 

कंस्यूमर एडवोकेसी रिपोर्ट में दी गई चेतवानी

 

PunjabKesari

 

इंटरनेट कनेक्टेड कारों को लेकर कंस्यूमर एडवोकेसी की एक रिपोर्ट प्रकशित हुई है जिनमें इन कारों के हैक होने पर बनने वाले खतरों को उजागर किया गया है। अभी तक स्मार्टफोन या पर्सनल कंप्यूटर के हैक होने की बात सामने आती थी लेकिन इस रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि आने वाले समय में हैकर्स इन कारों को हैक करके साइबर अटैक करवा सकते हैं जिनसे हज़ारो लोगों की मौत हो सकती है। 

 
एक्सपर्ट्स के अनुसार इंटरनेट से कनेक्ट होने चलते इनके हैक होने की संभावना है। हैकर्स ने इन्हें हैक करके 9 /11 जैसी आतंकी साज़िश रच सकते हैं। आपको याद दिला दें कि अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए आतंकी हमले में 3 हज़ार से अधिक लोगों की मौत हुई थी। 


अमेरिकन कंस्यूमर वाचडॉग संस्था कंस्यूमर एडवोकेसी ने Kill Switch: Why Connected Cars Can Be Killing Machines And How To Turn Them Off शीर्षक से इस रिपोर्ट को प्रकाशित किया है जिसमें 20 से ऑटो एक्सपर्ट्स और इंजीनियर्स से बात की गई है। 


रिपोर्ट में खुलासा : ऑटो कंपनियों छुपा रही जनता से सच 

 

PunjabKesari

 

इस रिपोर्ट में इंटरनेट कनेक्टेड कारों को देश के लिए खतरा बताया गया है। रिपोर्ट में खुलासा किया गया है कि ऑटो कंपनियां ग्राहकों से इन कारों से होने वाले खतरों का सच छुपा रही है। इन कार कंपनियों ने इंटरनेट बेस्ड फीचर्स को कारों में ऐड किया वह भी जनता को बिना बताए। उदारहण के तौर फोर्ड कंपनी  ने अपनी सिक्योरिटी एक्सचेंज कमीशन फाइलिंग्स में स्वीकारा है कि उसकी कारों में लगे इंटरनेट बेस्ड फीचर्स के के बारे ग्राहकों को कोई जानकारी नहीं है। 

 

रिपोर्ट में एक व्हिसलब्लोअर ने खुलासा किया है कि इन कारों को एयर कंडीशनर की तरह रिमोट से कण्ट्रोल किया जा सकेगा और यहाँ रिमोट के तौर पर स्मार्टफोन को इस्तेमाल किया जा सकेगा जो कि इंटरनेट से कनेक्टेड है। 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Harsh Pandey