हैकर्स ने लाखों स्मार्टफोन्स को बनाया अपना शिकार!

  • हैकर्स ने लाखों स्मार्टफोन्स को बनाया अपना शिकार!
You Are HereGadgets
Monday, April 29, 2019-4:43 PM

- सुरक्षा खामी की चपेट में Qualcomm के 46 चिपसेट

गैजेट डैस्क : ज्यादा तर एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में क्वॉलकॉम के चिपसेट का ही इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन इनमें ऐसी सुरक्षा खामी का पता लगाया गया है जो हैकर्स द्वारा आपके स्मार्टफोन पर नियंत्रण पाने की अनुमति दे रही है। रिपोर्ट के मुताबिक क्वॉलकॉम द्वारा तैयार किए गए चिपसेट्स में तकनीकी खामी का पता लगाया गया है जिसके जरिए हैकर्स स्मार्टफोन्स और अन्य डिवाइसिस पर नियंत्रण पा रहे हैं। 

  • रिपोर्ट के मुताबिक क्वॉलकॉम के कई सारे चिपसेट्स में CVE-2018-11976 नाम का एक सिक्योरिटी बग मौजूद है। इसके कारण यूजर के निजी डाटा तक हैकर्स की पहुंच बन रही है और इससे यूजर्स की निजी जानकारी चोरी हो रही है। इस बग के बारे में सबसे पहले जानकारी एनसीसी ग्रुप के शोधकर्ता केगन रेयान द्वारा दी गई थी।

इन चिपसैट्स में आई समस्या

सिक्योरिटी बग के कारण क्वॉलकॉम के स्नैपड्रैगन 200 सीरीज, 400 सीरीज, स्नैपड्रैगन 625, स्नैपड्रैगन 660, स्नैपड्रैगन 670, स्नैपड्रैगन 710, स्नैपड्रैगन 820, स्नैपड्रैगन 835 और फ्लैगशिप स्नैपड्रैगन 845 प्रोसैसर में समस्या आई है।

क्वॉलकॉम ने मानी अपनी गलती

क्वॉलकॉम ने इस बग की रिपोर्ट को सही माना है और कहा है कि अब बग को फिक्स कर दिया गया है। क्वॉलकॉम के सिक्योरिटी एग्जीक्यूटिव एनवायरनमेंट (QSEE) ने बताया है कि वैसे तो इस बग के जरिए यूजर्स के डाटा तक पहुंचना हैकर्स के लिए इतना आसान नहीं है। फिर भी हमने यूजर्स के निजी डाटा को इनक्रिप्ट कर दिया है। 

क्या अब सुरक्षित हो जाएंगे आपके स्मार्टफोन

वैसे तो क्वॉलकॉम ने इस बग को फिक्स कर दिया है लेकिन इस बग का पता लगाने वेले शोधकर्ता रेयान ने अभी भी कहा है कि यूजर्स की सुरक्षा खतरे में है। अगर स्मार्टफोन निर्माता 2019 का सिक्योरिटी अपडेट रिलीज करता है तब तो बेहतर है अन्यथा डाटा चोरी होना का खतरा बरकरार रहेगा।

यूजर्स के लिए हिदायत

अगर आपके स्मार्टफोन में इन प्रोसैसर्स में से कोई एक काम कर रहा है तो तुरंत सिक्योरिटी अपडेट आते ही फोन को अपडेट कर लें। यही एकमात्र तरीका है इस समस्या से निजात पाने का। 
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh