बच्चे के बुखार की जांच करेगी StethoMe डिवाइस

  • बच्चे के बुखार की जांच करेगी StethoMe डिवाइस
You Are HereLatest News
Tuesday, February 20, 2018-3:09 PM

जरूरत पडऩे पर फैमली डॉक्टर से शेयर कर सकेंगे डाटा

जालंधर : बच्चे बुखार होने पर थर्मामीटर को बगल में या मुंह में रखने से कतराते हैं व ऐसा करने पर चिड़चिड़ेपन से घरवालों के साथ पेश आते हैं। इसी बात पर ध्यान देते हुए बुखार की सुविधाजनक तरीके से जांच करने के लिए एक ऐसी स्मार्ट डिवाइस को बनाया गया है जिसे बच्चे के पीठ पर रखने मात्र से ही घर वालों को स्मार्टफोन एप पर बुखार की सटीक जानकारी मिलेगी। यह डिवाइस समय-समय पर तारीख के साथ बुखार से जुड़ी जानकारी को एप में सेव रखेगी जिसे जरूरत पडऩे पर फैमली डाक्टर के साथ शेयर किया जा सकेगा। माना जा रहा है कि इससे डॉक्टर को बच्चे की सेहत से जुड़ी अतिरिक्त जानकारी मिलेगी जो इलाज करने के काम आएगी। इस StethoMe डिवाइस को काफी रिसर्च के बाद पोलैंड की एडम मिकीवियस यूनिवर्सिटी (Adam Mickiewicz University) द्वारा विकसित करवाया गया है। शोधकर्ताओं का दावा है कि इससे बच्चे को किसी भी तरह की परेशानी नहीं होगी और आपको आसानी से पता चल जाएगा कि बच्चे को कितने डिग्री बुखार है। 

 

बच्चे के रैस्पिरेटरी सिस्टम को भी संभव होगी जांच
यूनिवर्सिटी के रिसर्चरों ने बताया है कि यह पहला ऐसी डायगनोस्टिंक डिवाइस है जो बच्चे के रैस्पिरेटरी सिस्टम यानी श्वसन प्रणाली की चैकिंग करने में मदद करेगी। अगर आपके बच्चे को अस्थमा जैसी सांस की बीमारी है और आपको बार-बार उसे अस्पताल में इलाज के लिए ले जाना पड़ता है तो यह डिवाइस आपके काफी काम आएगी। आपको बता दें कि यह डिवाइस मशीन लर्निंग बेस्ड अल्गोरिदम पर काम करती है और रिकार्डिंग्स में से हजारों पैटन्स की जांच कर एप पर जानकारी देती है जिससे आपको पता चलता रहता है कि इस समय बच्चे को दवा की जरूरत है या नहीं।

 

हार्टबीट और फेंफड़ों से जुड़ी जानकारी देगी यह डिवाइस
बच्चे की जांच करने के लिए आपको बस इस डिवाइस को बच्चे की पीठ पर रखना होगा जिससे यह काम करना शुरू कर देगी और स्मार्टफोन एप पर बच्चे की हार्टबीटस, बॉडी टैम्परेचर और सांस लेने पर उसके फेफड़ों की आवाज़ से जुड़ी जानकारी ग्राफ के जरिए शो करेगी व आपको जरूरी टिप्स भी देगी। 

PunjabKesari

डिवाइस की डिस्प्ले पर भी दिखेगी पूरी जानकारी
इस डिवाइस पर एक छोटे साइज की डिस्प्ले को भी लगाया गया है जो स्मार्टफोन के पास न होने की स्थिति में सारी जानकारी शो करती है और बच्चे की सेहत से जुड़ी चेतावनी भी देती है। इस डिवाइस पर कई अस्पतालों में सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया है। फिलहाल इस डिवाइस का पहला प्रोटोटाइप बना कर दिखाया गया है। माना जा रहा है कि इसकी प्रोडक्शन शुरू होगी और जल्द ही इसे बिक्री के लिए उपलब्ध किया जाएगा। फिलहाल इस डिवाइस की कीमत को लेकर कोई जानकारी सामने नहीं आई है। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Popular News