वायरस से प्रभावित हैं ये दो फोटो एडिटिंग एप्स, अभी करें अनइंस्टॉल

  • वायरस से प्रभावित हैं ये दो फोटो एडिटिंग एप्स, अभी करें अनइंस्टॉल
You Are HereGadgets
Sunday, September 22, 2019-10:40 AM

गैजेट डैस्क : अगर आप भी स्मार्टफोन से तस्वीरों को खींचने के बाद उन्हें बेहतर बनाने के लिए फोटो एडिटिंग एप्स का उपयोग करते हैं तो आपको सावधानी बरतने की सख्त जरूरत है। गूगल द्वारा प्ले स्टोर पर ऐसी दो लोकप्रिय थर्ड पार्टी कैमरा एप्स का पता लगाया गया है जो वायरस से प्रभावित थीं।

  • इन एप्स में से एक का नाम Sun Pro Beauty Camera है और दूसरी का Funny Sweet Beauty Selfie Camera बताया गया है। ये एप्स यूजर्स को जबरदस्ती पॉप-अप में विज्ञापन शो कर रही थीं जिनके जरिए एप्प डिवैल्पर खूब पैसा भी कमा रहे थे। वहीं दूसरी तरफ इनसे यूजर के स्मार्टफोन को काफी नुकसान पहुंच रहा था।

फोन की परफोर्मेंस को प्रभावित करती हैं ये एप्स

ये एप्स फोन के बैकग्राउंड में रन होती हैं जिस वजह से यह फोन की प्रोसैसिंग स्लो करती हैं जिससे फोन की परफोर्मेंस खराब हो जाती है। वहीं इसका असर फोन के बैटरी बैकअप पर भी पड़ता है। मोबाइल सिक्यॉरिटी फर्म Wandera ने जानकारी देते हुए बताया है कि ये एप्स फोन में खतरनाक वायरस भी पहुंचा सकती हैं। वहीं इनसे ऑडियो रिकार्डिंग को भी किया जाना सम्भव है।

PunjabKesari

एप्स की हो चुकी 15 लाख बार डाउनलोडिंग

इन दिनों ये वायरस से प्रभावित एप्स काफी लोकप्रिय हैं जिस वजह से दुनियाभर में इन्हें 15 लाख बार डाउनलोड किया जा चुका है। हालांकि अब इन एप्स को प्ले स्टोर से हटा दिया गया है। यूजर्स को यह सलाह दी जाती है कि अगर वे इन एप्स का उपयोग करते हैं तो इन्हें तुरंत फोन से अनइंस्टॉल कर दें।

इससे पहले भी सामने आ चुके ऐसे कई मामले

यह पहली बार नहीं हुआ है कि गूगल को एप्स में वायरस का पता चला है जिसके बाद इन्हें हटाया गया है। इससे पहले भी फेमस स्कैनिंग एप्प CamScanner को प्ले स्टोर से हटा दिया गया था। जिसके बाद इसकी निर्माता कम्पनी को इस एप्प में से वायरस को निकालना पड़ा था और इसे दोबारा प्ले स्टोर पर उपलब्ध किया गया था। सही बात यह रही कि इस एप्प के डिवैल्पर्स ने तुरंत एक्शन लेते हुए एप्प की समस्या को तुरंत ठीक कर दिया था।

सख्त हुए प्ले स्टोर के नियम

यूजर्स की सुरक्षा के लिए गूगल ने अब प्ले स्टोर के नियमों को सख्त कर दिया है। प्ले स्टोर पर एंड्रॉयड एप्स को पब्लिश होने में तीन दिन का अप्रूवल पीरियड तय किया गया है यानी अब कोई भी अपनी एप्प बना कर उसे सीधे ही तुरंत प्ले स्टोर पर पब्लिश नहीं कर पाएगा। यूजर्स की प्रिवेसी और सिक्यॉरिटी का ध्यान लेते हुए गूगल द्वारा यह सख्त निर्णय लिया गया है।
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh