व्हाट्सएप्प की नई पॉलिसी: एग्री करने पर डेटा प्राइवेसी खत्म, नहीं किया तो अकाउंट हो जाएगा डिलीट

  • व्हाट्सएप्प की नई पॉलिसी: एग्री करने पर डेटा प्राइवेसी खत्म, नहीं किया तो अकाउंट हो जाएगा डिलीट
You Are HereGadgets
Friday, January 8, 2021-12:39 PM

गैजेट डैस्क: व्हाट्सएप्प ने अपने यूजर्स के सामने नई शर्तें रख दी हैं जिनमें कहा गया है कि अगर यूजर 8 फरवरी तक इन्हें एक्सेप्ट नहीं करेगा तो उसके व्हाट्सएप्प अकाउंट को ही डिलीट कर दिया जाएगा। व्हाट्सएप्प यूजर्स को नई टर्म्स एंड प्राइवेसी पॉलिसी का अपडेट मिलने लगा है जिसमें लिखा है कि नई पॉलिसी 8 फरवरी 2021 से लागू हो रही है यदि आप नई प्राइवेसी पॉलिसी से एग्री करते हैं तो अपनी सहमति दें वरना 8 फरवरी के बाद आप व्हाट्सएप्प अकाउंट का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। अभी व्हाट्सएप्प में ’एग्री’ और ’नॉट नाउ’ की ऑप्शन मिल रही है।

व्हाट्सएप्प की नई टर्म्स एंड पॉलिसी के मुताबिक यूजर्स जो कंटेंट अपलोड, सबमिट, स्टोर, सेंड या रिसीव करते हैं कंपनी उन्हें कहीं भी यूज, रिप्रोड्यूस, डिस्ट्रीब्यूट और डिस्प्ले कर सकती है। साधारण शब्दों में कहें तो अगर आप व्हाट्सएप्प की इस पॉलिसी से एग्री करते हैं तो कंपनी आपके स्टोर डेटा का इस्तेमाल फेसबुक और इंस्टाग्राम के लिए कर सकेगी।

किस तरह का डेटा किया जाएगा कलैक्ट

व्हाट्सएप्प की नई टर्म्स ऑफ सर्विस और प्राइवेसी पॉलिसी में कंपनी ने यह रिवील करते हुए बताया है कि अब यूजर के डेटा को कलेक्ट किया जाएगा और इसे कंपनी अपने डेटाबेस में स्टोर रखेगी। इस डेटा में यूजर के अकाउंट की इंफार्मेशन, मैसेज, स्टेटस की जानकारी, ट्रांजेक्शन और पेमेंट डेटा, यूसेज और लॉग इंफॉर्मेशन, डिवाइस की जानकारी, लोकेशन की जानकारी और कूकीज़ आदि सबकुछ शामिल होगा। कंपनी ने यह भी साफ किया है कि इस डेटा को फेसबुक और उसकी सभी सर्विसेज के साथ शेयर किया जाएगा। 

इन जानकारियों को भी इकट्ठा करेगी कंपनी

व्हाट्सएप्प ने इनमें यह भी कहा है कि फोन का बैटरी लैवल, सिग्नल स्ट्रेंथ, एप्प वर्जन, ब्राउजर इंफॉर्मेशन, मोबाइल नेटवर्क, कनेक्शन इंफॉर्मेशन (जिनमें फोन नंबर, मोबाइल ऑपरेटर या ISP शामिल हैं), लैंग्वेज, टाइम जोन और IP अड्रेस भी फेसबुक के साथ शेयर किया जाएगा। 

भारत में जो लोग व्हाट्सएप्प की पेमेंट सर्विस का इस्तेमाल कर रहे हैं उनसे अतिरिक्त जानकारियां जैसे कि पेमेंट अकाउंट और ट्रांजेक्शन की डिटेल्स भी इकट्ठा की जाएंगी।

विज्ञापन के लिए इस्तेमाल किया जाएगा आपका डेटा

व्हाट्सएप्प अन्य कंपनियों को यूजर प्रोफाइलिंग के लिए इस डेटा को मुहैया करवाएगी। इसके आधार पर आपको विज्ञापन दिखाए जाएंगे। यदि आप व्हाट्सएप्प पेमेंट का इस्तेमाल करते हैं तो इससे आपके एक्सपेंस बिहेवियर के बारे में कंपनी को पता चल जाएगा और आप कैसे रेस्टोरेंट में जाते हैं, किस तरह और किस रेंज के ब्रैंड्स पर पैसे खर्च करते हैं, इत्यादि जानकारी व्हाट्सएप्प के पास पहुंचती रहेगी। 

व्हाट्सएप्प का उपयोग करते समय जब आप कोई स्टेटस लगाते हैं तो उसमें अपनी कोई विश जाहिर करते हैं तो इससे जुड़े विज्ञापन ही अब आपको फेसबुक और इंस्टाग्राम पर दिखने लगेंगे। 

आसान शब्दों में कहें तो यदि कहीं घूमने से जुड़ा स्टेटस आप लगाते हैं तो आपके सोशल मीडिया पेज पर टूर एंड ट्रैवल्स से जुड़े विज्ञापन दिखने लगेंगे। एक तरह से व्हाट्सएप्प आपके डेटा को एक्सेस कर यूजर प्रोफाइलिंग करेगा। अब अगर आपको व्हाट्सएप्प चलाना है तो नई टर्म्स एंड पॉलिसी को एग्री करना जरूरी है। यदि एग्री नहीं करते तो व्हाट्सएप्प अकाउंट डिलीट करना पड़ेगा।
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Latest News

Popular News