Whatsapp Security Flaw : हैकर्स कर सकते हैं आपके मैसेज एडिट

  • Whatsapp Security Flaw : हैकर्स कर सकते हैं आपके मैसेज एडिट
You Are HereTop Stories
Friday, August 9, 2019-2:55 PM

गैजेट डेस्क : वर्ल्ड के सबसे पॉपुलर व्हाट्सएप अब एक और सिक्योरिटी फ्लॉ (security flaw) की रिपोर्ट सामने आई है। इज़राइली साइबर फर्म - चेकपॉइंट के अनुसार इस सिक्योरिटी फलाव के कारण हैकर्स को यूज़र्स के मेसेज को एडिट करने का एक्सेस मिल जाता है।

यानी हैकर्स आपके एन्क्रिप्टेड मेसेजेस को पढ़ भी सकते और उसमें बदलाव भी कर सकते है। इतना ही नहीं, इस फ्लॉ के कारण किसी भी तरह के संदेश को इंटरसेप्ट किया जा सकता है और मैसेज भेजने वाले के कॉन्टेंट के साथ सेंडर की पहचान भी बदली जा सकती है।


चेकपॉइंट की रिपोर्ट पर गौर करना ज़रूरी 

PunjabKesari

 

इज़राइली साइबर फर्म - चेकपॉइंट ने इस सिक्योरिटी फ्लॉ को लेकर एक प्रेस रिलीज़ ज़ारी करी है। इसके साथ ही वीडियो भी शेयर किया गया है जिसमें बताया गया है कि कैसे यह सिक्योरिटी फ्लॉ आपकी डाटा प्राइवेसी को बाधित कर सकता है। इसके ज़रिये किसी भी मैसेज को एडिट , किसी भी सेन्डर को जानकारी को एडिट कर के गलत जानकारी को सम्प्रेषित किया जा सकता है जिससे प्रोपगैंडा या साइबर क्राइम की गतिविधियों को अंजाम दिया जा सकता है।  


व्हाट्सएप को किया गया सूचित लेकिन flaw पूरी तरह से साल्व्ड नहीं 

चेकपॉइंट फर्म व्हाट्सएप से एक आउटगोइंग संदेश को कैप्चर करने और इसे डिक्रिप्ट करने में कामयाब रहा। इसके बाद अपनी इच्छानुसार वह कंटेंट को बदल सकते थे और फिर उसे फॉरवर्ड करने के लिए एन्क्रिप्ट कर सकते थे। चेक प्वाइंट व्हाट्सएप के एन्क्रिप्शन एल्गोरिदम को रिवर्स करने में सक्षम था। डेटा को डिक्रिप्ट करके फर्म के रिसर्चर्स ने सभी मापदंडों का आदान-प्रदान किया। 

 

फिलहाल कंपनी ने व्हाट्सएप को इस सिक्योरिटी फ्लॉ के बारे में सूचित कर दिया है लेकिन व्हाट्सएप कंपनी इसे केवल कुछ हद तक ही ठीक कर पाई है। बता दें कि भारत की मद्रास हाईकोर्ट में भी व्हाट्सएप के डाटा प्राइवेसी लीक को लेकर केस चल रहा है जिसमें प्रोफेसर वी कमाकोटि ने अपनी सुझावों की रिपोर्ट दायर कर दी है। 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Harsh Pandey