हैकर्स ने किया 60 हजार Facebook यूज़र्स का डाटा लीक, कम्पनी को हुआ लाखों का नुकसान

  • हैकर्स ने किया 60 हजार Facebook यूज़र्स का डाटा लीक, कम्पनी को हुआ लाखों का नुकसान
You Are HereGadgets
Monday, March 11, 2019-2:12 PM

गैजेट डैस्क : अगर आप रोजमर्रा की जिंदगी में फेसबुक का उपयोग करते हैं तो यह खबर आपके साथ जुड़ी हुई है। यूक्रेन के रहने वाले दो युवकों ने ऑनलाइन क्विज़ के जरिए फेसबुक की प्राइवेसी को तोड़ दिया है जिसके बाद उन्होंने 60 हजार से ज्यादा फेसबुक यूज़र्स का डाटा लीक किया है। फेसबुक ने अपने द्वारा दायर किए गए मुकदमे में बताया कि ऐंड्रयू गोब्रेकोव और ग्लेब स्लक्वेस्की नामक हैकर्स ने लोगों को खुद के विज्ञापन दिखाने के लिए पहले यूज़र्स के अकाउंट में अपने द्वारा तैयार किया गया ब्राउजर एक्सटेंशन इंस्टॉल करवाया जिसके बाद उन्होंने यूज़र के फेसबुक प्रोफाइल से जुड़े डाटा को लीक कर दिया। 

PunjabKesari

इन यूज़र्स को किया गया टारगेट

द वर्ज की रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक ने अपने द्वारा दायर किए गए मुकदमे में बताया है कि हैकर्स ने फेसबुक के नियमों का व ऐंटी हैकिंग कानूनों का उल्लंघन किया है जिस पर ध्यान देते हुए दोनों पर अब मुकदमा चलाया जाएगा। वहीं इस दौरान सबसे ज्यादा रूसी भाषी लोगों को टारगेट किया है। ये दोनों युवक वैब सन ग्रुप नामक कम्पनी से ताल्लुक रखते हैं।

PunjabKesari

कैसे बनाई गई ये एक्सटेंशन

इस एक्सटेंशन को ऐसे तैयार किया गया था कि इसे इंस्टाल करने के बाद जब यूज़र फेसबुक या किसी अन्य सोशल नेटवर्किंग साइट पर जाए तो उस दौरान उसकी जानकारी लीक हो जाए और फेसबुक पर अनऑथराइज्ड विज्ञापन नजर आएं। 

PunjabKesari

फेसबुक को हुआ नुकसान

कम्पनी ने बताया कि इन दोनों ने फेसबुक यूज़र्स द्वारा लगभग 63 हजार ब्राउजरों में एक्सटेंशन डालकर उनका इसतेमाल किया है और इससे फेसबुक को 75 हजार डॉलर (करीब 52 लाख रुपए) का नुकसान भी हुआ है। कम्पनी ने इस तरह की चीजों को जड़ से खत्म करने की बात भी कही और कहा कि इस पर अब काम किया जाएगा। 

  • फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने हाल ही में फेसबुक यूज़र्स के लिए प्राइवेसी को ध्यान में रखते हुए एक नोट पोस्ट किया था। जिसमें लिखा था कि "मेरा मानना है कि ऐसी दुनिया के लिए हम काम करें जहां लोग बिना किसी चिंता के निजी तौर पर बात कर सकें और इस बात को लेकर उन्हें कोई फिकर ना हो कि उनकी जानकारी को कोई देख तो नहीं रहा।" यानी इसे और सुरक्षित बनाने पर काम किया जाएगा। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh