डेटिंग के नाम पर लड़कों को चूना लगा रही लड़कियां

  • डेटिंग के नाम पर लड़कों को चूना लगा रही लड़कियां
You Are HereGadgets
Wednesday, January 15, 2020-2:01 PM

गैजेट डैस्क: युवाओं के बीच आज के दौर में डेटिंग एप्स काफी लोकप्रिय हो गई हैं। इन एप्स के जरिए कुछ लोगों को उनका जीवनसाथी मिल जाता है वहीं कुछ ठगी का शिकार भी हो जाते हैं। मौजूदा स्थिती यह हो गई है कि ऑनलाइन डेटिंग के नाम पर बहुत बड़ा फर्जीवाड़ा हो रहा है। इस रिपोर्ट में हम आपको बताने वाले हैं कि लड़कियां डेटिंग के नाम पर लड़कों को कैसे चूना लगा रही हैं। 

फेक डेटिंग साइट्स ऐसे बना रहीं लोगों को अपना शिकार

साइबर क्राइम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि फेक डेटिंग एप्स और वेबसाइट चलाने वाले लोग पहले महिलाओं की फर्जी प्रोफाइल बनाते हैं। इसकी मेंबरशिप लेने के लिए सिल्वर, गोल्ड और प्लेटिनम ऑफर्स दिए जाते हैं, वहीं रजिस्ट्रेशन के लिए 1,000 रुपये की मांग भी की जाती है।

डेट पर जाने का दिया जाता है युवाओं को झांसा

रजिस्ट्रेशन पूरी होने के बाद युवती लड़के से फोन के जरिए संपर्क करती है। बातचीत में युवाओं को तीन से चार लाख रुपये जमा कराने को कहा जाता है, ताकि वे अपनी पसंद की लड़की के साथ डेट पर जा सके। इसके अलावा उनसे वादा किया जाता है कि उनके पैसे वापस कर दिए जाएंगे। पैसे जमा करने के बाद कुछ समय तक युवती बात करती है फिर बाद में लड़के को कॉल आनी बंद हो जाती है।

PunjabKesari

इस तरह लगता है लाखों का चूना

जब युवक लाखों रुपए खर्च करने के बाद भी महिला से नहीं मिल पाते तो उन्हें पता लग जाता है कि वे ठगे गए हैं। अगर युवक अपने पैसे वापस मांगता है तो उसे कहा जाता है कि वे पहले पांच लाख रुपये और जमा करें इसके बाद उसे निश्चित रकम काटकर पूरी राशि वापस कर दी जाएगी। हालांकि कोई पैसे वापस नहीं किए जाते।

इस तरह अपना बचाव करती हैं फर्जी डेटिंग वेबसाइट्स

फेक डेटिंग वेबसाइट पुलिस से बचने के लिए लगातार अपने ऑफिस की जगह बदलती रहती हैं जिससे उनकी सटीक लोकेशन की जानकारी का पता ही नहीं चल पाता। ये लोग फीचर फोन का इस्तेमाल करते हैं व कुछ समय बाद पुराने नम्बर वाली सिम तोड़ कर नया नम्बर चालू कर लेते हैं।

PunjabKesari

पिछले साल घटना को अंजाम देते पकड़ी गई थी एक लड़की

नवंबर 2019 में एक घटना सामने आई थी, जिसमें एक युवती ने कई लड़कों को डेटिंग एप्स के जरिए अपना शिकार बनाया था। 25 वर्षिय निवेदिता नामक ये लड़की कोलकाता की रहने वाली थी जिसने हैदराबाद के कई लड़कों को चूना लगाया था। अंग्रेजी में पोस्ट ग्रेजुएट होने के बाद वे दो वर्षों तक बेरोजगार रही थी। उसकी एक सहेली द्वारा 20 हजार रुपये महीने की नौकरी का प्रस्ताव देने पर उसने एक कॉल सेंटर में काम करना शुरू कर दिया था। इसके बारे में उसने अपने घरवालों को भी नहीं बताया था।

PunjabKesari

23 युवतियों और 26 लोगों की हुई थी गिरफ्तारी

कोलकाता के साइबर क्राइम विभाग के अधिकारियों ने निवेदिता के दफ्तर पर छापा मारकर उसके साथ की 23 युवतियों और 26 लोगों को गिरफ्तार किया था। इन सभी पर आरोप था कि ये युवकों को कॉलेज छात्राओं के अलावा मॉडल और अभिनेत्रियों के साथ डेटिंग करने का लालच देकर अपने जाल में फंसाते थे। इसके लिए युवकों से फीस के तौर पर हजारों और लाखों की रकम जमा करवाई जाती थी।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh