Apple पर मुकदमा, यूजर्स को नया चार्जर खरीदने के लिए मजबूर करने का आरोप

  • Apple पर मुकदमा, यूजर्स को नया चार्जर खरीदने के लिए मजबूर करने का आरोप
You Are HereTop Stories
Thursday, February 7, 2019-1:35 PM

गैजेट डैस्क : कैलिफोर्निया की ला फर्म में एप्पल के खिलाफ एक केस दियार किया गया है जिसमें एप्पल पर आरोप लगा है कि उसने यूजर्स को नया चार्जर खरीदने पर मजबूर किया है। एप्पल अपडेट के जरिए पुराने चार्जर की सपोर्ट को बंद कर रही है जिसके बाद यूजर्स को नया चार्जर खरीदने को मजबूर किया जा रहा है और यह काम वर्ष 2016 से जारी है। 

PunjabKesariचार्जर लगाने पर शो हो रहा एरर मैसेज
इस केस को "यूनाइटिड स्टेट्स डिस्ट्रिक्ट कोर्ट फार द सैन्ट्रल डिस्ट्रिक्ट ऑफ कैलिपोर्निया" में दायर किया गया है। इस केस में हजारों उपयोगकर्ताओं ने कहा है कि उनके आईफोन पर एक एरर मैसेज शो हो रहा है जिसमें एक्सैसरी नोट सपोर्टिड कहा जा रहा है यानी अपडेट के जरिए इसकी कम्पैक्टिबिलीटी को ही रिमूव कर रही है जिससे यूजर्स को काफी परेशानी हो रही है। 
PunjabKesari
अपडेट के बाद आई समस्या
बहुत से यूजर्स ने पाया कि आईफोन के अपडेट आने के बाद फोन ने चार्जर को पहचानना बंद कर दिया है। एपल पर आरोप है कि उसने जानबूझ कर ऐसा अपडेट दिया है जिससे फोन पुराने चार्जर को रिजेक्ट कर दे और लोगों को नया चार्जर खरीदने के लिए मजबूर होना पड़े। 
PunjabKesariएप्पल ने दी प्रतिक्रिया
एप्पल सपोर्ट पेज के जरिए कम्पनी ने कहा है कि एक्सैसरी सपोर्ट नहीं हो रही है इसके कई कारण हो सकते हैं। पहला कारण है कि एक्सैसरी डैमेज हो सकती है वहीं दूसरा कारण है कि चार्जर एप्पल सर्टिफाइड ना हो। एप्पल इंसाइडर की रिपोर्ट के मुताबिक इसी तरह का इश्यू पिछले साल सितम्बर के महीने में भी देखा गया था जिसे एप्पल द्वारा मेंटेनेंस प्रोग्राम अपडेट को जारी कर सही किया गया था।

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Jeevan