बढ़ते कम्पीटिशन को देख 40 स्मार्टफोन कम्पनियों ने छोड़ा भारत

  • बढ़ते कम्पीटिशन को देख 40 स्मार्टफोन कम्पनियों ने छोड़ा भारत
You Are HereTop Stories
Friday, February 8, 2019-6:04 PM

गैजेट डैस्क : स्मार्टफोन बाजार में बढ़ते कम्पीटिशन को देख कई कम्पनियों को भारत छोड़ने पर मजबूर होना पड़ा है। साइबर मीडिया रिसर्च द्वारा शेयर किए गए डाटा के मुताबिक वर्ष 2018 में 40 स्मार्टफोन ब्रैंड्स ने भारत में तगड़े कम्पीटिशन को देखते हुए देश को छोड़ दिया है। वहीं 15 ब्रैंड्स ने भारत में अपनी ग्रोथ दर्ज की है। 

इन कारणों के चलते कम्पनियों ने लिया यह निर्णय

वर्ष 2018 से ही शाओमी, सैमसंग, वीवो और ओप्पो ने कम कीमत वाले अपने स्मार्टफोन्स को बाजार में उतारा है। एनालिस्ट्स का कहना है कि यही कारण है कि इससे अन्य कम्पनियों का बाजार में टिकना काफी मुश्किल हो गया है। चीनी कम्पनियों ने काफी तेजी से भारतीय बाजार में अपनी पहुंच बनाई है और इससे कम्पीटिशन काफी बढ़ा है। छोटे स्मार्टफोन निर्माता इतनी कीमत पर अपने सामान को उपलब्ध नहीं कर पा रहे हैं जिससे उन्हें मुनाफा नहीं होता है। 

अब भी मौजूद हैं 200 कम्पनियां

रिसर्च के मुताबिक भारत में इस समय भी 200 स्मार्टफोन कम्पनियां बाजार में अपने स्मार्टफोन्स को बेच रही हैं। लेकिन वहीं 2014 से 2015 के बीच 300 स्मार्टफोन निर्माता बाजार में मौजूद थे।

कम कीमत में नई तकनीक देने वाली कम्पनियां हो रही हिट

चीन की कम्पनी Realme इस साल भारत में काफी हिट रही है जिससे पता लगता है कि अभी भी नई कम्पनियों के लिए भारत में जगह है। 

10 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा स्मार्टफोन बाजार

वर्ष 2018 में स्मार्टफोन बाजार ने भारत में 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी की थी। इसी बात पर ध्यान देते हुए अनुमानित कहा जा रहा है कि 2019 में भी 10 प्रतिशत की दर से ही यह बढ़ौतरी कायम रहेगी। 

2019 को लेकर हुई भविष्यवाणी

काऊंटरप्वाइंट रिसर्च ने भविष्यवाणी करते हुए बताया है कि इस साल भी यानी वर्ष 2019 में भी 15 स्मार्टफोन्स निर्माता भारत छोड़ेंगे, वहीं 5 नई कम्पनियों के आने की उम्मीद जताई जा रही है। 

जानें, कौन-सी कम्पनी का कितना रहा दबदबा

चीनी स्मार्टफोन ब्रांड्स शाओमी, वीवो, ओप्पो ने कुल मिला कर 46 प्रतिशत मार्कीट शेयर 2018 में हासिल किया। वहीं माइक्रोमैक्स, लावा, इंटैक्स और कार्बन ने 2018 में कम्बाईन में स्मार्टफोन मार्कीट शेयर 8 प्रतिशत हासिल किया। सैमसंग ने 26 प्रतिशत हिस्सेदारी अपने नाम की, वहीं छोटे स्मार्टफोन प्लेयर्स ने भारत में 16 प्रतिशत पर हिस्सा कायम किया। 

इंडियन स्मार्टफोन मार्कीट  2019 2018 2017 2016 2015
कम्पनियों की हुई एंट्री 09 15 09 13  15
कम्पनियों ने छोड़ा भारत 10 41 13 05 02

2018 में आई ये कम्पनियां

पोको फोन (शाओमी) होमटोम काूकिन
रियलमी इंवैन्स STK
 AGM मोबाइल मेज तैम्बू
ANEE मोबाइल मोबीस्टार इनीलो
गोम रेनवैंट एनर्जाइजर

2018 में इन कम्पनियों ने छोड़ा भारत

कैनज़िंडा Yxtel ज़ुक बिलियन OBI TCL

अन्य कम्पनिया जैसे कि

डाटाविंड लीको कोमिओ

2019 में इन कम्पनियों के आने या रीएंटर होने की उम्मीद

नूबिया एवरक्रोस एडवैन पोलीट्रोन रेजर

2019 में जा सकती हैं ये कम्पनियां

रोकिया मीडियाकोम फोरस्टार लाएची सोनी सैंट्रिक

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh