फेसबुक ने मानी गलती, भरना पड़ेगा लगभग 4 अरब रुपये का जुर्माना

  • फेसबुक ने मानी गलती, भरना पड़ेगा लगभग 4 अरब रुपये का जुर्माना
You Are HereGadgets
Thursday, January 30, 2020-12:52 PM

गैजेट डैस्क: फेशियल रिकग्निशन टैक्नोलॉजी मुद्दे पर फेसबुक को 550 मिलियन डॉलर (लगभग 4 अरब रुपये) का जुर्माना लगा है। फेसबुक ने अपनी चौथी तिमाही की आय रिपोर्ट के जरिए इस बात की पुष्टी करते हुए बताया है कि वह यह भुगतान करने के लिए सहमत है। फेशियल रिकग्निशन टेक मुद्दे पर प्राइवेसी से जुड़े कई वर्षों से चल रहे इस मुकदमे को निपटाने के लिए अब फेसबुक को भारी रकम चुकानी पड़ेगी। 

क्या है आरोप?

  • यह मुकदमा फेसबुक पर साल 2015 से चल रहा था।
  • कम्पनी पर आरोप था कि फेसबुक के 'टैग सजेशन टूल' का इनिशियल वर्जन यूजर के फेस को स्कैन करने के बाद फोटोज एप में उसे ढूंढता है व सजेशन्स दिखाता है कि वे किसके तरह दिखते हैं।
  • इसके अलावा यह टूल यूजर की इजाजत के बिना उसका बायोमैट्रिक डाटा भी स्टोर रखता है। इससे इलिनोइस बॉयोमीट्रिक सूचना गोपनीयता अधिनियम का उल्लंघन होता है।


द वर्ज की रिपोर्ट के मुताबिक केस के दौरान वर्ष 2018 में फेसबुक ने अपने बयान में कहा था कि लोग सैटिंग पेज में जाकर फेशियल रिकोग्निशन टैक्नोलॉजी द्वारा यूजर परमिशन्स को बंद कर सकते हैं, लेकिन पिछले साल अगस्त में 3-0 के अदालत के फैसले में फेसबुक ने अपील का हक खो दिया। इसके बाद अब फेसबुक को 550 मिलीयन डॉलर (लगभग 4 अरब रुपये) भुगतान के रूप में अदा करने के निर्देश दिए गए हैं।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Popular News