फेस डेटा के बदले यूजर्स को 340 रुपए दे रहा गूगल, Pixel 4 में ला सकता है नई टेक्नॉलजी

  • फेस डेटा के बदले यूजर्स को 340 रुपए दे रहा गूगल, Pixel 4 में ला सकता है नई टेक्नॉलजी
You Are HereLatest News
Wednesday, July 24, 2019-12:21 PM

नई दिल्लीः गूगल अपनी पिक्सल सीरीज के अगले डिवाइस Pixel 4 में नई फेस रेकॉग्निशन टेक्नॉलजी टेस्ट कर रहा है, कुछ रिपोर्ट्स में यह बात सामने आने के बाद नया अपडेट मिला है। गूगल इस टेक से जुड़ी रिसर्च के लिए फेस डेटा भी इकट्ठा कर रहा है। सर्च इंजन कंपनी के कर्मचारी न्यूयॉर्क की सड़कों पर लोगों से उनका फेस डेटा मांग रहे हैं और बदले में उन्हें 5 डॉलर (करीब 340 रुपए) का भुगतान किया जा रहा है। गूगल कर्मचारियों का कहना है कि कई शहरों में इस तरह डेटा इकट्ठा किया जा रहा है।

PunjabKesari

फेस डेटा लेने से पहले गूगल के कर्मचारी लोगों की अनुमति लेते हैं और उनसे एक कंसेंट फॉर्म पर साइन करवाया जाता है। इसके बाद चेहरा स्कैन किया जाता है और लोगों को 5 डॉलर का गिफ्ट कार्ड बदले में मिलता है। प्रिवेसी को लेकर यूजर्स की अलग-अलग राय है। कुछ का कहना है कि वे लगभग पूरी जिंदगी गूगल से जुड़े रहे हैं और आगे भी रहेंगे और उनका डेटा गूगल के सर्वर में पहले ही सेव है। वहीं, कई यूजर्स ने कहा कि डेटा प्रिवेसी किसी भ्रम की तरह है और अब चेहरे की फोटो तो बिल्कुल भी प्राइवेट नहीं रही।

PunjabKesari

गूगल कई शहरों में इस नए तरीके से डेटा जुटा रहा है। डेटा कलेक्शन के गूगल के इस तरीके को संकेत माना जा रहा है कि कंपनी इस साल की आखिरी तिमाही में लॉन्च होने वाले Pixel 4 में खास टेक्नॉलजी वाला फेस अनलॉक फीचर दे सकती है। जहां ज्यादातर कंपनियां ऑनलाइन डेटा कलेक्शन जैसे तरीके अपनाती हैं, गूगल सड़कों पर यूजर्स की अनुमति लेने के बाद फेस डेटा ले रहा है।

PunjabKesari

केस में छुपे फोन में डेटा स्कैनिंग
खास बात यह है कि डेटा को एक काफी बड़े केस में छुपे फोन में स्टोर किया जा रहा है। केस के चलते यह देखना मुश्किल है कि अंदर क्या है, हालांकि माना जा रहा है कि यह Pixel 4 हो सकता है। एक बार यूजर के सहमति देने के बाद छुपे हुए फोन का सेल्फी मोड इस्तेमाल करते हुए अलग-अलग एंगल पर चेहरा घुमाकर फेस डेटा स्कैन करना होता है। इसके बदले गूगल कर्मचारी ऐमजॉन या स्टारबक्स का गिफ्ट कार्ड दे रहे हैं।

लीक्स में दिखा सेंसर कटआउट
रिपोर्ट में एक यूजर का भी जिक्र है, जिसने अपना फेस डेटा छुपे हुए फोन में स्कैन करने के लिए करीब पांच मिनट का वक्त बिताया। गूगल कर्मचारियों का कहना है कि उनकी टीमें कई शहरों में भी ऐसा कर रही हैं। यूजर ने एक फॉर्म पर साइन भी किया, जिसका मतलब है कि गूगल उसका फेस डेटा इस्तेमाल कर सकता है। बता दें, पिछले दिनों लीक एक स्क्रीन गार्ड की फोटो में Pixel 4 के फ्रंट पैनल पर कई कटआउट दिखे थे। माना जा रहा है उनमें से एक गूगल की नई फेस अनलॉक टेक्नॉलजी के लिए हो सकता है और इससे गूगल ऐपल की फेस आईडी को टक्कर देगा।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:jyoti choudhary