अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प को मिली Huawei से अंतिम चेतावनी

  • अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प को मिली Huawei से अंतिम चेतावनी
You Are HereGadgets
Tuesday, August 20, 2019-11:37 AM

गैजेट डेस्क : अमेरिका-चीन के बीच ज़ारी ट्रेड वॉर गंभीर रूप लेता जा रहा है। सुरक्षा के मुद्दे पर अमेरिका की डॉनल्ड ट्रम्प सरकार ने देश के सभी टेक कंपनियों को हुवावे के साथ बिज़नेस डील न करने के निर्देश ज़ारी किये थे हालांकि मई में पूर्ण सेल्स बैन पर लाये एग्जीक्यूटिव आर्डर में तबदीली करते हुए हुवावे को 90 दिनों का एक्सटेंशन दे दिया है जिसके तहत 19 नवंबर 2019 तक कंपनी अपने वर्तमान इक्विपमेंट और नेटवर्क की फंक्शनिंग कर सकता है।  

इसके अलावा सिक्योरिटी अपडेट्स भी रिलीज़ कर सकता है। इसके पीछे कारण है कि रूरल एरिया की टेक कंपनियों को हुवावे के इक्विपमेंट नेटवर्क से शिफ्ट होने में और वक़्त लगेगा। फिलहाल हुवावे को यूएस कॉमर्स डिपार्टमेंट की तरफ टेम्पररी लाइसेंस दिया गया है। 

 

पहले Trump की चेतावनी ,  अब उल्टा Huawei ने चेताया 

 

Image result for huawei ceo sky news


इस मुद्दे पर कंपनी ने खुलकर ट्रम्प सरकार पर वार किया है। हुवावे के सीईओ रेन झेंगफेई ने 'गंभीर परिणामों' के बारे में चेतावनी दी। झेंगफेई ने साफ़ किया है कि यदि कंपनी को पूरे एंड्राइड सिस्टम में एक्सेस नहीं दिया गया तो वह आगे चलकर ऐसे कदम उठाएगी जिसके चलते गूगल और एप्पल की ग्लोबल टेक मार्किट में प्रभुद्धता ख़त्म हो जाएगी। 


हुवावे सीईओ ने स्काई न्यूज़ से बातचीत में कहा कि यदि अमेरिका की सरकार गूगल को एंड्राइड सिस्टम एक्सेस की परमिशन नहीं देती है तो हम तीसरा प्रमुख मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम बनाने पर मजबूर हो जाएगी और यह हमारे या उनके , किसी के भी हित में होने नहीं जा रहा है। 


बता दें कि हुवावे ने कुछ दिनों पहले ही अपना खुद का मोबाइल ओएस Harmony OS को लॉन्च किया है। कंपनी इस ऑपरेटिंग सिस्टम को IOT - इंटरनेट ऑफ़ थिंग्स की स्कीम पर बनाने जा रही है यानी हार्मोनी ओएस स्मार्टफोन से लेकर कंप्यूटर तक के लिए फंक्शनल होगा।  


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Harsh Pandey