UK में शुरू हुई दुनिया की पहली सोलर पावर्ड रेल लाइन

  • UK में शुरू हुई दुनिया की पहली सोलर पावर्ड रेल लाइन
You Are HereGadgets
Sunday, August 25, 2019-4:56 PM

गैजेट डैस्क : यूनाइटेड किंगडम में अब कुछ ट्रेनें ऐसी रेल लाइन पर काम करेंगी जोकि पूरी तरह से सौर फार्म द्वारा संचालित होगी। सौर उर्जा से पैदा हुई बिजली से इन ट्रेनों को पावर मिलेगी और वे रोजमर्रा की जिंदगी में मुसाफिरों को सफर तय करवाएंगी। इलैक्ट्रिक ट्रेन्स की बिजली की आपूर्ति के लिए ट्रैक के साथ सोलर फार्म बनाया गया है जो बिजली पैदा करने के अलावा उसे स्टोर भी करेगा जिससे ट्रेन्स काम करेंगी। 

PunjabKesari

सोलर फार्म में लगे 100 पैनल्स

रेल लाइन्स के साथ बनाए गए सोलर फार्म में राइडिंग सनबीम्स (Riding Sunbeams) कम्पनी द्वारा 100 सोलर पैनल्स लगाए गए हैं जो ट्रेन को बिजली देने के अलावा ट्रैक पर लगी लाइट्स और सिग्नल्स को भी पावर देंगे। 

  • इस सर्विस को सबसे पहले यूनाइटेड किंगडम के देश इंगलैंड के एक टाउन एल्डरशोट (Aldershot) में शुरू किया गया है। माना जा रहा है कि इस सर्विस के शुरू होने के बाद यूनाइटेड किंगडम में इसे और बढ़ावा मिलेगा। 

PunjabKesari

सबसे पहले सौर ऊर्जा पर चलाए गए थे रेल्वे स्टेशन्स

आपको बता दें कि रेल लाइन्स को सोलर पावर पर करने का काम रेल्वे स्टेशनों से शुरू हुआ था। सबसे पहले यूनाइटेड किंगडम के कुछ रेलवे स्टेशनों को सोलर पावर की मदद से ऑपरेट किया गया, जिसके बाद यह प्रक्रिया आगे बढ़ी। 

पैसों की हुई बचत

रेलवे स्टेशनों को सोलर पावर पर चलाने पर सरकार को कई बिलियन पाउंड्स की बचत हुई जिसके बाद इस योजना को आगे बढ़ाया गया और अब तो इससे इलैक्ट्रिक ट्रेन्स को भी संचालित कर दिया गया है।

PunjabKesari

UK की सरकार ने लिया अहम फैसला

बढ़ रहे प्रदूषण की समस्या को देखते हुए UK की सरकार ने रेल्वे लाइन्स को सोलर पावर पर करने के अलावा एक और अहम फैसला लिया है। सरकार ने लक्ष्य रखा है कि वर्ष 2040 तक सभी रेल लाइन्स पर डीजल से चलने वाले इंजन्स को रोक दिया जाएगा और बिजली से काम करने वाले इंजन्स ही उपयोग होंगे। 

भारत की भी है सोलर फार्म स्थापित करने की योजना

आपको जानकर हैरानी होगी कि भारत में 250 से ज्यादा ट्रेन्स काम कर रही हैं जिनकी छतों के उपर सोलर पैनल लगे हैं। भारत की भी ट्रैक के साथ सोलर फार्म स्थापित करने की योजना है और उम्मीद है कि 10 वर्षों में भारत पहला पूर्णतः ग्रीन रेलवे नेटवर्क बनेगा।
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh